तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान हागिया सोफिया मस्जिद में तब्दील होने के बाद लगातार अच्छी खबरों के चलते हुए सुर्खियों में चल रहे है। बता दे, सोशल मिडीया से लेकर अंतराष्ट्रीय मीडिया में तुर्की की खबर ट्रेंड में रही । तुर्की सदर ने प्रेस कान्फ्रेंस कर सभी को चौका तो दिया लेकिन 1 सप्ताह का इंतेज़ार करने के लिए कहा । बता दे, तुर्की सदर के इस बयान के बाद तुर्की के बाजार में खुशी देखने को मिली और बाजार की चमक भी साफ देखी गई ।

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो तुर्की सदर एर्दोगन गैस, तेल के भंडार होने की घोषणा कर सकते है । तुर्की के राष्ट्रपति ने बीबीसी रिपोर्ट के मुताबिक, एर्दोगान ने शुक्रवार को लेकर कहा है कि वो कल एक दुनियाभर के सभी मुस्लिमो के लिए ख़ुशख़बरी सुनाने जा रहे है। उन्होंने कहा है कि इससे तुर्की के नए दौर का आगाज होगा।

बुधवार को ऊर्जा से जुड़े एक कार्यक्रम में दिए एर्दोगान ने इस बयान से तुर्की की मुद्रा लीरा और एनर्जी सेक्टर मै खुशी की लहर देखने को मिली है। तुर्की की लीरा में भी इससे सुधार देखने को मिलेगा और ऊर्जा कम्पनियों के शेयरों में भी उछाल देखने को मिलेगा।बता दे कि एर्दोगान ने इस बात का जिक्र तो नही किया है कि।

खबर किस बारे में है मगर समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार,शुक्रवार को तेल और गैस के भण्डार मिलने का एलान किया जा सकता है।समाचार एजेंसी के मुताबिक, सूत्रों का कहना है कि तुर्की को ब्लैक सी के दो भंडार मिले है इनमे से एक काफी बड़ा है।हागिया सोफिया के फैसले के बाद तुर्कि के राष्ट्रपति ने बयान में कहा था कि अब मस्जिदे अल अक्सा भी एक दिन इजराइल के गिरफ्त से मुक्त होगी।

हाल ही में यूएई और इजराइल समझौते के बाद किसी देश ने तो इसका स्वागत किया है तो तुर्की, कतर और पाक समेत कई देशों ने इसपर नाराजगी जाहिर की है। इतना ही नही एर्दोगान ने कहा है कि हम फिलिस्तिनी लोगो को कभी भी परेशान नही होने देंगे। हम अपने राजदूत को वापस बुला सकते है। फिलिस्तिन ने भी यूएई से अपना राजदूत वापस बुला लिया है। इसी बीच अमेरिका के रास्ट्रपति ने इस डील को ऐतिहासिक बताया है।

loading...