TRAI का नया आदेश! अब बिना रिचार्ज के इतने दिनों बंद नहीं होगा सिम

टेलीकॉम रेगुलेटर TRAI ने आज एक नया आदेश जारी किया है. इस आदेश के तहत अब टेलीकॉम कंपनियों को हर हाल में 30 दिनों वाला कम से कम एक प्लान ऑफर करना ही होगा. कंज्यूमर्स की शिकायत के बाद ट्राई ने यह फैसला लिया है|

ट्राई ने अप्रैल के महीने में इस संबंध में कंपनियों को निर्देश जारी किया था कि उन्हें प्लान वाउचर और प्लान वाउचर रिन्यूअल कैटिगरी में कम से कम एक ऐसा टैरिफ लाना होगा जिसकी वैलिडिटी 30 दिनों की होगी. आदेश के बाद सभी टेलीकॉम कंपनियों के एक महीने की वैलिडिटी वाले कुछ प्लान्स लॉन्च किए हैं.

अब ट्राई ने इन प्लान्स की लिस्ट जारी की है. यूजर्स की शिकायत के बाद TRAI ने टेलीकॉम कंपनियों को ऐसे रिचार्ज प्लान्स जारी करने का आदेश किया था. इससे पहले तक ज्यादातर प्लान्स में 28 दिनों की वैलिडिटी मिलती थी. हालांकि, 28 दिनों की वैलिडिटी वाले प्लान्स अभी भी मौजूद हैं.

TRAI Order Airtel के दो प्लान्स

एयरटेल के पोर्टफोलियो में 128 रुपये और 131 रुपये के दो प्लान्स शामिल हैं. 128 रुपये में आपको 30 दिनों की वैलिडिटी मिलेगी. इसमें लोकल और STD कॉल्स 2.5 पैसे प्रति सेकेंड की दर से मिलती हैं.

वहीं नेशनल वीडियो कॉल 5 पैसे प्रति सेकेंड, डेटा 50 पैसे प्रति MB और SMS (1 रुपये लोकल और 1.5 रुपये STD) के रेट से मिलेगा. 131 रुपये के प्लान में आपको ये सभी सर्विसेस एक महीने की वैलिडिटी के साथ मिलेंगी.

TRAI Order BSNL और MTLN के प्लान्स

30 दिनों की वैलिडिटी के साथ BSNL का रिचार्ज प्लान 199 रुपये में आता है, जबकि एक महीने की वैलिडिटी वाले प्लान की कीमत 229 रुपये है. वहीं MTNL की बात करें तो, कंपनी 151 रुपये और 97 रुपये के दो प्लान्स ऑफर करती है.

TRAI Order Jio के प्लान्स 

जियो ने भी TRAI के आदेश के बाद अपने पोर्टफोलियो में दो प्लान्स जोड़े हैं. एक महीने की वैलिडिटी वाला जियो प्लान 259 रुपये में आता है. इस रिचार्ज प्लान में आपको डेली 1.5GB डेटा, अनलिमिटेड कॉल्स, डेली 100 SMS और जियो ऐप्स का सब्सक्रिप्शन मिलता है.

वहीं 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 296 रुपये में आता है. इस प्लान में कंज्यूमर्स को 30 दिनों की वैलिडिटी के लिए 25GB डेटा, अनलिमिटेड कॉल्स और डेली 100 SMS मिलते हैं. साथ में कंज्यूमर्स जियो ऐप्स का सब्सक्रिप्शन भी हासिल कर सकते हैं.

TRAI Order Vi के रिचार्ज प्लान्स

वोडाफोन आइडिया (Vi) का 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 137 रुपये का है. इसमें कंज्यूमर्स को 10 लोकल नाइट मिनट्स, 2.5 पैसे प्रति सेकेंड के रेट से कॉलिंग, 1 रुपये और 1.5 रुपये के रेट से लोकल व STD SMS बेनिफिट्स मिलते हैं. एक महीने के लिए ये सभी सर्विसेस 141 रुपये के रिचार्ज प्लान में मिलेंगी.

Video Germany Mosque: जर्मनी की सबसे बड़ी मस्जिद में पहली बार हुई लाउडस्पीकर के साथ सामूहिक नमाज

Loud Sppee in Germany Mosque “नमाज़-ए-इश्क़ पढ़ी तो मगर ये होश किसे, कहां कहां किए सज्दे कहां क़याम किया.” सिराज लखनवी की यह उर्दू शायरी नमाज के महत्व और नमाज में डूब चुके शख्स का हाले दिल बयां करती है. बात जब धर्म और खुदा की हो तो ये मोहब्बत अक्सर कई लोगों में नजर आती है, लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि कुछ बंदिशों की वजह से दिल और मोहब्बत दोनों के होते हुए भी हमें इजहारे इश्क से बचना पड़ता है. पर जब यह बंदिशें हटती हैं तो खुशी चेहरे पर साफ नजर आती है. कुछ ऐसी ही खुशी शुक्रवार को उन लोगों के चेहरे पर दिखी, जो जर्मनी की सबसे बड़ी मस्जिद में से एक से पहली बार लाउडस्पीकर पर अजान देने आए थे. बता दें कि कोलोन में जर्मनी की सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक है. यहां प्रशासन की तरफ से लाउडस्पीकर के साथ अजान की अनुमति मिलने के बाद शुक्रवार को पहली बार सार्वजनिक रूप से लोगों के जुटने का आह्वान भी किया था, लेकिन बहुत सीमित संख्या में ही लोग पहुंचे.

शुक्रवार से अमल में लाया गया फैसला

जर्मनी के चौथे सबसे बड़े शहर में अधिकारियों ने पिछले साल मस्जिदों के लिए दोपहर से 3 बजे के बीच अधिकतम पांच मिनट के लिए लाउड स्पीकर पर नमाज की अनुमति दी थी. इसके बाद बीच में कोरोना की वजह से ऐशा नहीं हो पाया और मॉल पर प्रतिबंध लागू ही रहे, लेकिन अब हालात सामान्य होने के बाद शुक्रवार को इसे अमल में लाया गया.

सेंट्रल मस्जिद से की गई थी अपील

नमाज करने का आह्वान जर्मनी के लिए पहली बार नहीं था, लेकिन इसे एक विशेष रूप से प्रमुख मस्जिद में लाया. सेंट्रल मस्जिद, दो लंबी मीनारों वाली एक आधुनिक इमारत, कोलोन शहर के पश्चिम में एक व्यस्त सड़क पर स्थित है। तुर्की-इस्लामिक यूनियन फॉर रिलिजियस अफेयर्स, या DITIB द्वारा संचालित, इसका उद्घाटन 2018 में तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने किया था.

कुछ लोग विरोध में भी उतरे

जर्मनी में अब तक केवल इमारत के अंदर ही नमाज की पुकार सुनाई देती थी, लेकिन शुक्रवार की दोपहर की शुरुआत में, इसे दो लाउडस्पीकरों के माध्यम से प्रसारित किया गया था, हालांकि अधिकारियों ने यह निर्धारित किया था कि यह आसपास के निवासियों के लिए 60 डेसिबल तक सीमित होना चाहिए. कॉल पांच मिनट से भी कम समय तक चली और केवल मस्जिद के बाहर ही सुनी जा सकती थी। सड़क के दूसरी ओर, लगभग 20 प्रदर्शनकारी बैनरों के साथ एकत्र हुए, जिनमें से एक ने “कोलोन में नो मुअज़्ज़िन कॉल!” की मांग की। सार्वजनिक स्थान वैचारिक रूप से तटस्थ होना चाहिए” वे ईरान में विरोध प्रदर्शनों के विरोध में महिलाओं के एक समूह में शामिल हुए.

PM मोदी ने कहा-एक व्यक्ति नहीं सुलझा पाया कश्मीर मुद्दा 

गुजरात दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को नाम लिए बिना देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू पर जमकर निशाना साधा। एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल ने तत्कालीन रियासतों के विलय से संबंधित सभी मुद्दों को हल कर दिया था। लेकिन ”एक व्यक्ति” कश्मीर के मुद्दे को नहीं हल कर सका। वर्षों से लंबित कश्मीर की समस्याओं का हल मैं इसलिए निकाल सका, क्योंकि मैं सरदार पटेल के पदचिह्नों पर चलता हूं। पीएम मोदी ने कहा कि सरदार सरोवर बांध परियोजना में बाधा डालने की शहरी नक्सलियों ने भरपूर कोशिश की। इसे कानूनी पचड़ों में उलझाकर रखा।

कांग्रेस को आड़े हाथ लिया

आणंद जिले के वल्लभ विद्यानगर में भाजपा द्वारा आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के नेताओं से मुलाकात होने पर उनसे यह अवश्य पूछें कि क्या उन्होंने कभी सरदार पटेल के सम्मान में स्टैच्यू आफ यूनिटी का दौरा किया है। इसके निर्माण का संकल्प भाजपा ने विपक्ष में रहते हुए लिया था। इसका उद्देश्य सरदार पटेल को वह सम्मान देना था, जिसके वे हकदार थे। केवडिया में स्थित सरदार पटेल की प्रतिमा विश्व का गौरव है। उन्होंने कहा कि केवल स्टैच्यू आफ यूनिटी ही नहीं, उनकी सरकार ने महात्मा गांधी के सम्मान में ऐतिहासिक दांडी मार्च के पूरे मार्ग को भी विकसित किया है। गांधी के नाम पर वर्षों तक राजनीति करने वालों ने कभी इस ओर ध्यान नहीं दिया। इसे भी हमें ही करना पड़ा।

गुजरात में प्रवेश को तैयार बैठे हैं शहरी नक्सली

पीएम मोदी ने कहा कि शहरी नक्सली विदेशी ताकतों की सहायता से गुजरात में प्रवेश करने की कोशिश में है। इन्होंने अपनी वेशभूषा बदल ली है। देश के कई राज्यों बंगाल, बिहार, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, ओडिसा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और महाराष्ट्र में नक्सलियों ने आदिवासी युवाओं के हाथों में बंदूक थमाकर उनकी ¨जदगी को तबाह कर दिया। गुजरात के आदिवासी युवाओं ने मेरी बात मानकर विकास का संकल्प लिया और शहरी नक्सलियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया। भरुच में 2506 करोड़ रुपये के बल्क ड्रग पार्क के साथ ही उन्होंने कई परियोजनाओं का शिलान्यास किया। अपनी इस यात्रा में वह राज्य में 8,200 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास करेंगे।

अपनी पुरानी रीति-नीति से चुनाव जीतने के प्रयास में कांग्रेस

मोदी ने कहा कि कांग्रेस गुजरात में अपनी पुरानी रीति-नीति पर उतर आई है। इसलिए, लोग इससे सतर्क रहें। विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बीच कांग्रेस व इसके नेताओं की चुप्पी पर आश्चर्य जताते हुए पीएम ने लोगों से सतर्क रहने को कहा। कहा कि ऐसा मत समझिए कि कांग्रेस सभा, सम्मेलन व प्रेस वार्ता नहीं कर रही है तो वह चुप बैठी है। वह जमीनी स्तर पर गांवों में घूमकर अपनी पुरानी रीति-नीति से चुनाव जीतने के प्रयास में है। उनका इशारा कांग्रेस की जातिवादी राजनीति से था।

लालबत्ती वाले खा जाते थे मुर्गी

पीएम मोदी ने कहा कि पहले आदिवासियों को पांच मुर्गी पालने के लिए लोन दिया जाता था। इसे पाकर ही वे अपने आप को धन्य समझते थे और अंडे बेचने के सपने बुना करते थे। कुछ दिन बाद लालबत्ती वाले नेताजी गांव में आते तो उन पांच मुर्गियों में से एक को पकाकर उन्हें खिला दिया जाता था। इस तरह से एक साल में पांचों मुर्गियां समाप्त हो जाती थीं और कर्जा अलग से चढ़ जाता था। 

What I’ve learned from road trips

Attachment Caption

Etiam placerat velit vitae dui blandit sollicitudin. Vestibulum tincidunt sed dolor sit amet volutpat. Nullam egestas sem at mollis sodales. Nunc eget lacinia eros, ut tincidunt nunc. Quisque volutpat, enim id volutpat interdum, purus odio euismod neque, sit amet faucibus justo dolor tincidunt dui. Nulla facilisi. Phasellus in tincidunt lacus, in gravida ipsum. Cras id vehicula est, tincidunt pellentesque magna. Etiam porttitor nulla urna, quis vulputate justo euismod ac. Nunc viverra sollicitudin fringilla.

Ut a tortor quis nunc mattis placerat vitae sed sapien. Duis vitae enim ac turpis viverra ullamcorper et vitae odio. Pellentesque arcu tortor, aliquam vel semper at, ullamcorper et odio. Nullam aliquet rhoncus quam non iaculis. Pellentesque id enim et nisl ultricies vulputate in a magna. Ut lectus eros, imperdiet at ultricies interdum, ornare sit amet massa. Suspendisse tempus neque ut congue aliquam.

Maecenas felis lacus, mollis eu tellus vitae, tincidunt sodales elit. Fusce placerat ante eget sapien egestas, eu eleifend turpis aliquet. Orci varius natoque penatibus et magnis dis parturient montes, nascetur ridiculus mus. Ut id quam sed mauris bibendum convallis. Maecenas erat dui, ultricies id sem quis, maximus accumsan enim. Pellentesque porta, purus sit amet imperdiet blandit, quam eros porta orci, eu placerat quam libero a tortor. Cras convallis tellus id sapien congue sollicitudin. Aenean vehicula lacus vel ligula aliquam, sit amet auctor felis pharetra. Maecenas id nisi velit. Pellentesque mattis ligula leo, id bibendum ligula mollis at. Donec ornare hendrerit est at finibus. Phasellus in ante id nulla pharetra ullamcorper.

How to Write 10,000 Words a Week

Attachment Caption

Etiam placerat velit vitae dui blandit sollicitudin. Vestibulum tincidunt sed dolor sit amet volutpat. Nullam egestas sem at mollis sodales. Nunc eget lacinia eros, ut tincidunt nunc. Quisque volutpat, enim id volutpat interdum, purus odio euismod neque, sit amet faucibus justo dolor tincidunt dui. Nulla facilisi. Phasellus in tincidunt lacus, in gravida ipsum. Cras id vehicula est, tincidunt pellentesque magna. Etiam porttitor nulla urna, quis vulputate justo euismod ac. Nunc viverra sollicitudin fringilla.

Ut a tortor quis nunc mattis placerat vitae sed sapien. Duis vitae enim ac turpis viverra ullamcorper et vitae odio. Pellentesque arcu tortor, aliquam vel semper at, ullamcorper et odio. Nullam aliquet rhoncus quam non iaculis. Pellentesque id enim et nisl ultricies vulputate in a magna. Ut lectus eros, imperdiet at ultricies interdum, ornare sit amet massa. Suspendisse tempus neque ut congue aliquam.

Maecenas felis lacus, mollis eu tellus vitae, tincidunt sodales elit. Fusce placerat ante eget sapien egestas, eu eleifend turpis aliquet. Orci varius natoque penatibus et magnis dis parturient montes, nascetur ridiculus mus. Ut id quam sed mauris bibendum convallis. Maecenas erat dui, ultricies id sem quis, maximus accumsan enim. Pellentesque porta, purus sit amet imperdiet blandit, quam eros porta orci, eu placerat quam libero a tortor. Cras convallis tellus id sapien congue sollicitudin. Aenean vehicula lacus vel ligula aliquam, sit amet auctor felis pharetra. Maecenas id nisi velit. Pellentesque mattis ligula leo, id bibendum ligula mollis at. Donec ornare hendrerit est at finibus. Phasellus in ante id nulla pharetra ullamcorper.

Are You Sabotaging Your Creativity

Attachment Caption

Etiam placerat velit vitae dui blandit sollicitudin. Vestibulum tincidunt sed dolor sit amet volutpat. Nullam egestas sem at mollis sodales. Nunc eget lacinia eros, ut tincidunt nunc. Quisque volutpat, enim id volutpat interdum, purus odio euismod neque, sit amet faucibus justo dolor tincidunt dui. Nulla facilisi. Phasellus in tincidunt lacus, in gravida ipsum. Cras id vehicula est, tincidunt pellentesque magna. Etiam porttitor nulla urna, quis vulputate justo euismod ac. Nunc viverra sollicitudin fringilla.

Ut a tortor quis nunc mattis placerat vitae sed sapien. Duis vitae enim ac turpis viverra ullamcorper et vitae odio. Pellentesque arcu tortor, aliquam vel semper at, ullamcorper et odio. Nullam aliquet rhoncus quam non iaculis. Pellentesque id enim et nisl ultricies vulputate in a magna. Ut lectus eros, imperdiet at ultricies interdum, ornare sit amet massa. Suspendisse tempus neque ut congue aliquam.

Maecenas felis lacus, mollis eu tellus vitae, tincidunt sodales elit. Fusce placerat ante eget sapien egestas, eu eleifend turpis aliquet. Orci varius natoque penatibus et magnis dis parturient montes, nascetur ridiculus mus. Ut id quam sed mauris bibendum convallis. Maecenas erat dui, ultricies id sem quis, maximus accumsan enim. Pellentesque porta, purus sit amet imperdiet blandit, quam eros porta orci, eu placerat quam libero a tortor. Cras convallis tellus id sapien congue sollicitudin. Aenean vehicula lacus vel ligula aliquam, sit amet auctor felis pharetra. Maecenas id nisi velit. Pellentesque mattis ligula leo, id bibendum ligula mollis at. Donec ornare hendrerit est at finibus. Phasellus in ante id nulla pharetra ullamcorper.

Getting What You Want

Attachment Caption

Etiam placerat velit vitae dui blandit sollicitudin. Vestibulum tincidunt sed dolor sit amet volutpat. Nullam egestas sem at mollis sodales. Nunc eget lacinia eros, ut tincidunt nunc. Quisque volutpat, enim id volutpat interdum, purus odio euismod neque, sit amet faucibus justo dolor tincidunt dui. Nulla facilisi. Phasellus in tincidunt lacus, in gravida ipsum. Cras id vehicula est, tincidunt pellentesque magna. Etiam porttitor nulla urna, quis vulputate justo euismod ac. Nunc viverra sollicitudin fringilla.

Ut a tortor quis nunc mattis placerat vitae sed sapien. Duis vitae enim ac turpis viverra ullamcorper et vitae odio. Pellentesque arcu tortor, aliquam vel semper at, ullamcorper et odio. Nullam aliquet rhoncus quam non iaculis. Pellentesque id enim et nisl ultricies vulputate in a magna. Ut lectus eros, imperdiet at ultricies interdum, ornare sit amet massa. Suspendisse tempus neque ut congue aliquam.

Maecenas felis lacus, mollis eu tellus vitae, tincidunt sodales elit. Fusce placerat ante eget sapien egestas, eu eleifend turpis aliquet. Orci varius natoque penatibus et magnis dis parturient montes, nascetur ridiculus mus. Ut id quam sed mauris bibendum convallis. Maecenas erat dui, ultricies id sem quis, maximus accumsan enim. Pellentesque porta, purus sit amet imperdiet blandit, quam eros porta orci, eu placerat quam libero a tortor. Cras convallis tellus id sapien congue sollicitudin. Aenean vehicula lacus vel ligula aliquam, sit amet auctor felis pharetra. Maecenas id nisi velit. Pellentesque mattis ligula leo, id bibendum ligula mollis at. Donec ornare hendrerit est at finibus. Phasellus in ante id nulla pharetra ullamcorper.

Nothing Beats New York

Attachment Caption

Etiam placerat velit vitae dui blandit sollicitudin. Vestibulum tincidunt sed dolor sit amet volutpat. Nullam egestas sem at mollis sodales. Nunc eget lacinia eros, ut tincidunt nunc. Quisque volutpat, enim id volutpat interdum, purus odio euismod neque, sit amet faucibus justo dolor tincidunt dui. Nulla facilisi. Phasellus in tincidunt lacus, in gravida ipsum. Cras id vehicula est, tincidunt pellentesque magna. Etiam porttitor nulla urna, quis vulputate justo euismod ac. Nunc viverra sollicitudin fringilla.

Ut a tortor quis nunc mattis placerat vitae sed sapien. Duis vitae enim ac turpis viverra ullamcorper et vitae odio. Pellentesque arcu tortor, aliquam vel semper at, ullamcorper et odio. Nullam aliquet rhoncus quam non iaculis. Pellentesque id enim et nisl ultricies vulputate in a magna. Ut lectus eros, imperdiet at ultricies interdum, ornare sit amet massa. Suspendisse tempus neque ut congue aliquam.

Maecenas felis lacus, mollis eu tellus vitae, tincidunt sodales elit. Fusce placerat ante eget sapien egestas, eu eleifend turpis aliquet. Orci varius natoque penatibus et magnis dis parturient montes, nascetur ridiculus mus. Ut id quam sed mauris bibendum convallis. Maecenas erat dui, ultricies id sem quis, maximus accumsan enim. Pellentesque porta, purus sit amet imperdiet blandit, quam eros porta orci, eu placerat quam libero a tortor. Cras convallis tellus id sapien congue sollicitudin. Aenean vehicula lacus vel ligula aliquam, sit amet auctor felis pharetra. Maecenas id nisi velit. Pellentesque mattis ligula leo, id bibendum ligula mollis at. Donec ornare hendrerit est at finibus. Phasellus in ante id nulla pharetra ullamcorper.