साल 2019 में ऐसी कई घटनाएं हुई है जिसके तहत हम बीते वर्ष को ऐतिहासिक वर्ष भी कह सकते। 2019 में कई बड़े राजनीतिक बदलाव हुए वहीँ भारतीय क्रिकेटरों (Indian Cricket team) ने भी बहुत ही ऐसी ऐतिहासिक पारियां खेली हैं जिन्हें सालों तक दोहराना बेहद मुश्किल है। भारतीय क्रिकेट के इतिहास में 2019 में भारतीय गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) की गेंदबाजी का जिक्र हमेशा किया जाएगा।

भारतीय गेंदबाज मोहम्मद शमी ने विश्व कप 2019 में के 28 हुए मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ गेंदबाजी में इतिहास रच दिया था।शमी ने हैट्रिक लेकर भारतीय टीम को अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में 11 रन से रोमांचक जीत दिलाई थी। और इसके साथ ही क्रिकेट विश्वकप में हैट्रिक लेने वाले भारत के चेतन शर्मा के बाद दूसरे गेंदबाज बन गए।

आपको बता दें कि इससे पहले इंग्लैंड के खिलाफ मैच में मोहम्मद शमी ने अपनी शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए इंग्लैंड के पांच बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा था। वहीं वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच में मोहम्मद शमी ने 4 विकेट चटकाए थे। इसके साथ पाकिस्तान के ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी के बाद मोहम्मद शमी विश्व के दूसरे और भारत के पहले ऐसे गेंदबाज बन गए जिन्होंने वर्ल्ड कप के लगातार तीन मैचों में चार या 4 से अधिक विकेट लिए।

जानकारी के लिए बता दे कि, इसके पहले भी वो साल में सबसे अधिक विकेट ले चुके हैं. उन्होंने 2014 में 38 विकेट लेकर ये ख़िताब पाया था।हालांकि साल 2019 में उन्होंने 42 खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा।इससे पहले न्यूज़ीलैंड के ट्रेंट बोल्ट ने 38 विकेट लेकर कुछ मुक़ाबला करने की कोशिश की जबकि लोककी फेर्गुसों ने 35 विकेट लिए बोल्ट ने इस साल बीस मैच खेले जबकि फेर्गुसों ने 17 ही मैच खेले।शमी की बात करें तो उन्होंने 21 मैच खेलकर ये कारनामा किया।

loading...