इंस्टैंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वाटस्अप को लेकर कई तरह के विवाद सामने पिछले कुछ समय से उजागर हो रहे हैं। इनमें सबसे ऊपर सुरक्षा का मुद्दा है।

जागरण डॉट कॉम के अनुसार, ताजा मामला यह है कि इजरायली सिक्योरिटी फर्म NSO वाटस्अप की कमियों का इस्तेमाल करते हुए यूजर्स पर नजर रख रही है।

इसके बाद यह खबर सामने आई थी कि एक करप्ट वीडियो फाइल यूजर्स के फोन को हैक करने की अनुमति हैकर्स को देती है। इन सब मामलों को लेकर टेलीग्राम फाउंडर पावेल दुरोव ने अपने प्लेटफॉर्म पर एक पोस्ट लिखा है जिसमें दावा किया गया है कि वाटस्अप एक स्पाई प्रोग्राम का हिस्सा है।

उन्होंने अपने पोस्ट में यह भी लिखा है कि अगर यूजर्स अपने फोटोज और मैसेजेज को सार्वजनिक नहीं कराना चाहते हैं तो यूजर्स को अपने फोन से वाटस्अप को डिलीट कर देना चाहिए।

आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब दुरोव ने वाटस्अप की आलोचना की है। इससे पहले मई महीने में भी इन्होंने वाटस्अप स्पाईवेयर हैक को लेकर एक ब्लॉग पोस्ट लिखा था कि वाटस्अप कभी भी टेलीग्राम की तरह सिक्योर नहीं हो सकता है।

कुछ दिन पहले एक अननोन वीडियो कॉल के जरिए डाटा प्राइवेसी और हैकिंग का मामला उजागर हुआ था। वहीं, अब एक और मामला सामने आया था जिसमें हैकर्स यूजर्स को MP4 वीडियो फाइल भेजकर मेलवेयर अटैक करने की कोशिश में थे और कर भी रहे थे। इस अटैक की वजह से आपके स्मार्टफोन की डिटेलिस लीक हो जाती हैं।

loading...