सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में CBI जांच को 8 दिन पूरे हो चुके हैं। सीबीआई सुशांत मामले को तेजी से सुलझाने के लिए हर दिन इस केस से जुड़े संदिग्धों से पूछताछ कर रही है।

शुक्रवार को सीबीआई ने सुशांत मामले की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती को समन भेजा और पूछताछ की है।

बताया जा रहा है कि रिया से सीबीआई की पूछताछ तकरीबन 10 घंटों तक चली। दरअसल इस मामले में हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती पर शिकंजा कसा हुआ है।

इस केस में फंसी रिया चक्रवर्ती को अब एनसीबी भी समन भेज सकती है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा ने कहा कि सुशांत केस में शुरुआती जांच शुरू हो गई है।

दरअसल एनसीबी सुशांत केस में ड्रग्स के एंगल पर जांच कर रही है। जिसके चलते कभी भी NCB की तरफ से रिया को समन भेजा जा सकता है।

वहीं इस मामले में पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता डॉ उदित राज ने भारतीय जनता पार्टी पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा- “रिया चक्रवर्ती अगर भाजपा की सदस्यता ले लें तो फ़ौरन जाँच & मीडिया ट्रायल ख़त्म हो जाएगा।” कांग्रेस नेता डॉ उदित राज में रिया चक्रवर्ती के हवाले से सीधे तौर पर भाजपा पर निशाना साधा है।

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी में ऐसे कई नेता शुमार हैं। जो पहले किसी न किसी आपराधिक मामले में फंसे हुए थे। लेकिन भाजपा में शामिल होने बाद उनपर सब आपराधिक मामले में हटा लिए जाते हैं।

भाजपा में शामिल होते ही अपराधरिक रिकॉर्ड वाले नेताओं, अभिनेताओं और खिलाड़ियों की छवि साफ़ सुथरी हो जाती है। भले वह भ्रष्टाचारी हो या फिर रेप और हत्या का आरोपी।

भाजपा में शामिल होते ही उनपर से सब केस खत्म कर दिए जाते हैं। उन्हें दोबारा बड़े स्तर पर अपराध करने का लाइसेंस मिल जाता है।

loading...