Loading...

सुधीर यादव ने चुनाव के समय EVM को लेकर अजीबोगरीब बयान देते हुए कहा था, “अभी EVM प्रेग्नेंट है। अगर नॉर्मल डिलिवरी हुई तो आम आदमी पार्टी पैदा होगी और अगर ऑपरेशन हुआ तो BJP।”

AAP नेता सुधीर यादव ने योगी की तुलना स्कूल के चपरासी से की

कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए रविवार (मार्च 22, 2020) को जनता कर्फ्यू के दिन शाम को ठीक 5 बजे लोगों ने घरों से निकलकर ताली बजाकर उन लोगों का आभार भी जताया, जो कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए मोर्चा थामे हुए हैं। जैसे ही घड़ी की सूई ने 5 बजने का इशारा किया, लोग अपने घरों की छतों, बालकनी, खिड़की और छज्जों पर जमा होकर ताली, थाली, घंटी और शंख बजाने लगे।

कोई थाली और चम्मच बजा रहा था, तो कोई पूजा घर में बजाई जाने वाली घंटी लेकर जनसेवकों का आभार प्रकट करने में जुट गए। समाज के हर वर्ग का आदमी इस ऐतिहासिक पल में शामिल था। गली-मोहल्ले, शहर और कस्बे थाली-चम्मच, घंटे-घड़ियाल, ताली और ढोलकों की आवाजों से गूँजने लगे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घंटा बजाकर लोगों का अभिनंदन किया। केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, जेपी नड्डा समेत तमाम मंत्री भी इस पल में भागीदार बने।

पीएम मोदी के इस आह्वान का देश की जनता ने और विभिन्न क्षेत्रों की तमाम हस्तियों ने पूरा साथ दिया और इस कदम की प्रशंसा की। हालाँकि कुछ लोगों ने पीएम की इस बात का मजाक भी उड़ाया और मीम्स भी बनाए। इन्हीं में से एक है आम आदमी पार्टी (AAP) का नेता सुधीर यादव।

हरियाणा आम आदमी पार्टी का प्रवक्ता और आईटी एवं सोशल मीडिया प्रमुख सुधीर यादव ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के घंटा बजाने को लेकर घटिया बयानबाजी करते हुए ट्विटर पर लिखा, “इसे देखकर मुझे मेरे स्कूल का चपरासी का याद आ गया और आपको?” AAP के इस नेता का ये बेहद ही नीच और स्तरहीन बयानबाजी इसके व्यक्तित्व को दर्शाता है, जो एक सीएम के ऊपर इस तरह की टिप्पणी करता है।

इससे पहले भी सुधीर यादव ने चुनाव के समय EVM को लेकर अजीबोगरीब बयान देते हुए कहा था, “अभी EVM प्रेग्नेंट है। अगर नॉर्मल डिलिवरी हुई तो आम आदमी पार्टी पैदा होगी और अगर ऑपरेशन हुआ तो BJP।”

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के संकट को लेकर पीएम मोदी ने गुरुवार (मार्च 19, 2020) को देश के नाम संबोधन दिया। जहाँ पीएम मोदी ने 22 मार्च को देशवासियों से जनता कर्फ्यू का पालन करने के लिए कहा था। पीएम मोदी की अपील पर 22 मार्च को कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए पूरा हिन्दुस्तान एकजुट दिखा। जनता कर्फ्यू का पालन करते हुए लोगों ने आज घरों में रहने की ठानी। सड़के सूनी, बाजार में सन्नाटा पसरा दिखा। लोग घर में बैठकर, बेहद धैर्य का परिचय देकर कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोक रहे हैं।

Loading...