डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत अपने ‘पिता’ से मिलने के लिए बेताब है। सूत्रों के अनुसार हनीप्रीत ने राम रहीम से मिलने के लिए लगातार तीन बार जेल प्रशासन को पत्र लिखा है लेकिन हर बार उसकी अर्जी खारिज कर दी गई।

हनीप्रीत के वकील और सुप्रीम कोर्ट के वकील ए पी सिंह का कहना है कि अब हनीप्रीत जेल से बाहर है और उसे जेल के अंदर किसी से भी मिलने पर रोक नहीं लगानी चाहिए। ये उसका मौलिक अधिकार है।

इस महिला ने पीएम मोदी का खोला राज, बतायी पुरानी बीती…

आपको बता दे कि हनीप्रीत का नाम अगस्त 2017 में डेरा प्रमुख की सजा के बाद पंचकूला में हिंसा भड़काने की साजिश रचने के आरोप में आया था। वह आखिरी बार राम रहीम से उस दिन मिली थी, जब राम रहीम के खिलाफ फैसला सुनाया गया था।

सनी लियोन के डांस को देख सिनेमा हॉल में फैन्स हुए…

हनीप्रीत का मूल नाम प्रियंका तनेजा है, उसे पंचकुला अदालत से जमानत मिलने के बाद 6 नवंबर को अंबाला जेल से रिहा किया गया था। इसके बाद वह सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा पहुंची और तब से उसने अपने ‘पिता’ से मिलने के लिए कई प्रयास किए।

loading...