Aadhar card में सुधार के लिए बदले नियम, नाम-जन्मतिथि-मोबाइल नंबर में बदवाल ऐसे होंगे अब

इस पोस्ट में हम बात करने वाले है आधार कार्ड के बारे में, आज के समय में मोबाइल की सिम लेनी हो, या फिर किसी बैंक में खाता खुलाना हो या फिर आपको पासपोर्ट बनाना हो आज के समय में आधार कार्ड सबसे ज्यादा जरुरी है| आपको पता ही है की आज के समय में लगभग सभी के पास में आधार कार्ड है लेकिन हर तीसरे इन्सान के आधार कार्ड में कोई ना कोई मिस्टेक है जैसे की किसी के नाम में, किसी के जन्मतिथि में, किसी पिता या माता के नाम में कुछ ना कुछ गलती तो जरुर है ही| इसके लिए हमें उसमे करेक्शन करने में बहुत ही ज्यादा परेशानी होती है| इन सब की दिक्कतों को कम करते हुए युआईडीएआई ने आधार कार्ड में सुधार करवाने के लिए कुछ डॉक्यूमेंट कम कर दिए है|

युआईडीएआई ने अपने नए फैसले में आधार कार्ड में सुधर के नए फैसले ले लिए है और इसमें आपको अब दो नए मौके मिल जाते है| अब आपको अपने आधार कार्ड में अनमे सही करवाने के लिए पासपोर्ट, पैनकार्ड, मतदाता आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, सरकारी क्षेत्रो द्वारा जारी कंपनियों के पहचान पत्र, शैक्षणिक संस्थानों का लेटर हेड, हथियार का लाइसेंस, जाती या फिर निवास प्रणाम पत्र, पेंशनकार्ड फोटो कार्ड, आवास प्रणाम पत्र आप इन मेसे कोई भी डॉक्यूमेंट दिखा सकते है| इन सभी कागजो के जरिये किसी भी डॉक्यूमेंट से आप अपने नाम में बदलाव कर सकते है|

अगर आपको अपने आधार कार्ड में अपना मोबाइल नंबर लिंक कराना है| आपके आधार कार्ड से अगर आपका मोबाइल नंबर लिंक नहीं है और आप उसे बदलाव करना चाहते है तो अआप अपने नजदीकी आधार केंद्र में जाकर आपको बिना किसी डॉक्यूमेंट के जरिये भी आप आने नंबर को बदल सकते है| आप सिर्फ 50 रुपये अदा करके आप अपने मोबाइल नंबर लिंक या फिर आप उसमे सुधर कर सकते है|

बाकी तो आपकी इसके बारे में क्या राय है हमें निचे कमेंट में जरुर बताये

loading...