चीन के केंद्रीय बैंक पीपुल्स बैंक ऑफ चायना ने भारत के निजी क्षेत्र के बैंक आईसीआईसीआई बैंक (ICICI BANK) में निवेश किया है। हालांकि, चीन के केंद्रीय बैंक ने काफी कम राशि निवेश की है।

जागरण डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने आईसीआईसीआई बैंक में मात्र 15 करोड़ रुपये निवेश किये हैं। यह निवेश क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल प्लेसमेंट (QIP) के माध्यम से हुआ है।

इससे पहले पिछले साल मार्च में चीन के केंद्रीय बैंक ने एचडीएफसी में अपने निवेश को बढ़ाकर एक फीसद से अधिक कर दिया था। उस समय इस पर काफी विवाद हुआ था।

पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने आईसीआईसीआई बैंक में हिस्सेदारी खरीदी है। पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने आईसीआईसीआई बैंक के हाल के 15,000 करोड़ के क्यूआईपी प्लेसमेंट को सब्सक्राइब किया और 15 करोड़ रुपये निवेश किए।

चीन का केंद्रीय बैंक उन 357 इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स में शामिल था, जिन्होंने इस इश्यू को सब्सक्राइब किया।

इन इन्वेस्टर्स में म्युचुअल फंड्स, बीमा कंपनियां और ग्लोबल इंस्टीट्यूशंस शामिल थे। आईसीआईसीआई बैंक ने इस इश्यू के जरिए संस्थागत निवेशकों से पूंजी जुटाने की कोशिश की थी।

यह निवेश ऐसे समय में आया है, जब गलवान घाटी में सैनिकों के बीच हुई झड़प के बाद से भारत और चीन के बीच व्यापारिक रिश्तों में तनाव है। इससे पहले पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना का एचडीएफसी में निवेश एक फीसद पहुंचने के बाद काफी विवाद हुआ था।

Read more – Top 5 Best Car Insurance Companies In India 2019

तब एचडीएफसी (HDFC) ने सफाई दी थी कि चीनी केंद्रीय बैंक पीपल्स बैंक ऑफ चाइना (PBOC) कंपनी का मौजूदा शेयरधारक है और उसने एचडीएफसी में अपने निवेश के एक फीसद पर पहुंचने की केवल घोषणा की थी।

loading...