Babri demolition case: Murli Manohar Joshi’s statement will be filed today, tomorrow is Advani’s turn

लखनऊ: अयोध्या के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में आज को भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी का बयान दर्ज होगा। जोशी का बयान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सीबीआई की विशेष अदालत में दर्ज होगा।

सीआरपीसी की धारा 313 के तहत जोशी अपना बयान जज के सामने दर्ज कराएंगे। वहीं जोशी के बयान दर्ज होने के बाद शुक्रवार को लालकृष्ण आडवाणी भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सीबीआई की विशेष अदालत में अपना बयान दर्ज कराएंगे। सीबीआई की स्पेशल कोर्ट के जज एस के यादव ने दोनों नेताओं के बयान दर्ज कराने के लिए तारीख निर्धारित की है।

32 आरोपियों के बयान दर्ज

वहीं इस मामले में उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री और राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती के बयान पहले ही दर्ज हो चुके हैं। दरअसल बाबरी विध्वंस मामले में अब तक 32 आरोपियों का बयान दर्ज किया जा चुका है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई की विशेष अदालत रोज इस मामले की सुनवाई कर रही है। 31 अगस्त तक कोर्ट को इस मामले की सुनवाई पूरी करने का आदेश है।

31 अगस्त तक होनी है सुनवाई

आपको बता दें कि अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को कार सेवकों द्वारा बाबरी मस्जिद ढहाई दी गई थी। उसी मामले में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, कल्याण सिंह समेत 32 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा चल रहा है। जिसमें सभी के बयान दर्ज कराकर 31 अगस्त तक मामले की सुनवाई पूरी करनी है।

loading...