New Delhi: यूं तो देशभर में कोरोना वायरस के नए मामले लगातार तेज़ी से बढ़ते ही जा रहे हैं, लेकिन कुछ राज्यों के हालात बद से बद्तर हो रहे हैं. ऐसे राज्यों में एक नाम बिहार का भी है. बिहार में कोरोना के नए मामले रोज रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं।

इसी को देखते हुए बिहार सरकार ने राज्य में एक बार फिर लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया है. बिहार में एक अगस्त से लेकर अगले 16 दिन यानी 16 अगस्त तक लॉकडाउन लागू रहेगा। राज्य सरकार ने इस संबंध में गाइडलाइंस भी जारी कर दी है।

बिहार में इस शासनादेश में कहा गया है कि पिछले तीन हफ़्तों से राज्य में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसे देखते हुए सरकार ने लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है ताकि तुरंत ही कोरोना के प्रसार को रोका जा सके।

इस दौरान क्या खुला रहेगा व् क्या बंद रहेगा, इस बाबत गाइडलाइन्स भी जारी कर दी गयी हैं. 1 अगस्त से लागू हो रहे लॉकडाउन के दौरान भारत सरकार के कार्यालय 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ खुले रहेंगे। अधिकारियों को दफ्तर आना होगा।

Read more – 1 अगस्‍त से अनलॉक-3, जानें क्‍या खुलेगा और क्‍या रहेगा बंद

केंद्रीय सशस्त्र बल, आपदा विभाग, पेट्रोलियम, पीएनजी व सीएनजी से जुड़े कार्यालय खुले रहेंगे। राज्य सरकार के कार्यालय 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ खुले रहेंगे। सिविल डिफेंस, पुलिस, अग्निशमन विभाग व आपदा विभाग के कार्यालय में सभी स्टाफ के आने की छूट रहेगी.

आवश्यक वस्तुओं की दुकानें पहले की तरह ही खुली रहेंगी। वहीं अस्पताल और दवा दुकानों पर रोक लागू नहीं रहेगी। बैंक में पहले जैसे ही काम होता रहेगा। वाणिज्यिक और प्राइवेट ऑफिस भी 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ खुल सकेंगे। औद्योगिक प्रतिष्ठान खुलें रहेंगे।

loading...