थाने में रिक्शा चालक और उसका परिवार

पुलिस ने पिता के ई रिक्शे को पकड़ा तो बेटी थाना लोहामंडी पहुंच गई। बेटी ने अपने जन्मदिन की बात बताते हुए प्रभारी निरीक्षक से एक बार छोड़ने का आग्रह किया।

इस पर निरीक्षक नरेंद्र शर्मा ने बेटी को मिठाई खिलाकर शुभकामनाएं दी। इसके बाद यातायात नियमों का पाठ पढ़ाकर ई रिक्शा को छोड़ दिया। चालक को आगे से नियमों का उल्लंघन नहीं करने की हिदायत भी दी। 

बिचपुरी निवासी भूरा यादव ई रिक्शा चलाता है। बुधवार को लोहामंडी पुलिस ने ई रिक्शा को नो पार्किंग जोन में खड़ा होने पर पकड़ लिया। इसके बाद थाने ले आए। कुछ देर बार भूरा की बेटी शीतल थाने आ गई।

शीतल को मिठाई खिलाते थाना प्रभारी निरीक्षक

प्रभारी निरीक्षक नरेंद्र शर्मा से कहा कि वह रत्न मुनि जैन इंटर कॉलेज में कक्षा आठ में पढ़ती है। आज उसका जन्मदिन है। पिता का ई रिक्शा बंद हो जाएगा तो घर का खर्च कैसे चलेगा। घर में एकमात्र कमाई का साधन यही है।

इससे पहले उनका एक ऑटो था, जिसे एक परिचित लेकर चला गया। उन पर कर्ज भी हो गया था। इस पर निरीक्षक ने शीतल को यातायात नियमों की जानकारी दी। चालक भूरा से भी आगे से नियमों को पालन करने को कहा।

इसके बाद शीतल के लिए मिठाई मंगवाई। मिठाई खिलाने के बाद उसे पिता के ई रिक्शा के साथ जाने दिया। उसके परिवार के अन्य लोगों ने पुलिस को इस व्यवहार के लिए धन्यवाद दिया।

loading...