बिजनौर : देश चाहे चंद्रयान या मंगलायान की उपलब्धि को खुद को जितना भी गर्वित कर ले लेकिन अभी भी देश का एक बहुत बड़े तबके में अन्धविश्वास का जाल फैला हुआ है. खबर लगभग एक महीने पुरानी है लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

यूपी के बिजनौर के धामपुर में अंधविश्‍वास का एक बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक गरीब परिवार का लड़का मोनू अपने परिवार के जीवन यापन के लिये मजदूरी करने को घर से निकला था, काम करते वक्त उसको बिजली का जोरदार करंट लगा।

इसके बाद उसे तुरंत नजदीकी डॉक्टर को दिखाया गया तो डॉक्टर ने उसको मृत बता दिया, लेकिन अंधविश्वास की डोर मे जकड़े ग्रामीण मृत मोनू को जिन्दा करने के लिए अनोखा तरीका अपना रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ये मामला बिजनौर के धामपुर इलाके के गांव जीतन पुर का है।

जहां के रहने वाले एक गरीब परिवार का लड़का मोनू सुबह मजदूरी करने को घर से निकला था, लेकिन काम करते वक्त मोनू को बिजली का करंट लग गया। बेहोशी की हालत मे मोनू को तुरंत नजदीकी डॉक्टर को दिखाया गया, लेकिन डॉक्टर ने उसको मृत घोषित कर दिया।

ग्रामीणों ने मोनू को जिंदा करने का एक अनोखा तरीका निकाला, उन्होंने शव को घर लाकर उसे गोबर में गाड़ दिया, शव के चारो तरफ गोबर लगाकर हथेलियों पर बर्तन रगड़ते रहे तथा ग्रामीणों ने शव को ग्लूकोज़ भी चढ़ाया.

विडियो देखे:-

LEAVE A REPLY