कानपुर. एक युवक ने मुंबई की रहने वाली युवती को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। लड़की ने उसे एक्सेप्ट कर लिया और इसी के बाद दोनों के बीच बातचीत शुरू हो गई। इसी दौरान युवक ने प्यार का इकरार कर दिया, जिसके बाद प्रमिका ने भी अपने दिल की बात FACEBOOK पर लिख दी। प्यार परवान चढ़ा और प्रेमी उससे मिलने फिल्म नगरी पहुंच गया। दोनों के बीच कई मुलाकातें और वादे हुए और इसी बीच प्रमिका ने शादी का प्रस्ताव रख दिया। जिस पर प्रेमी ने अगले साल सात फेरे लेने की हामी भर दी।

प्रेमी की पत्नी से हुई मुलाकात
एक माह पहले प्रेमिका उससे मिलने के लिए कानपुर आना चाहती थी, लेकिन उसने टरका दिया। पर प्रमिका नहीं मानी और शनिवार को किसी तरह पता पूछकर वह मुंबई से सीधे कानपुर आ गई। वो जैसे ही प्रेमी के घर पहुंची तो उसकी मुलाकात प्रेमी की पत्नी से हो गई। प्रमिका को जब पूरी हकीकत का पता चला तो उसके पैरों के तले से जमीन खिसक गई। एफबी में लाखों सपने दिखाने वाला प्रेमी शादीशुदा निकला। वो उससे मिलने के लिए अड़ गई तो प्रेमी की पत्नी ने उसे धक्का देकर भगा दिया। युवती थाने गई, लेकिन पुलिस ने जब उसकी फरियाद नहीं सुनी तो उसने वहीं पर अपने हाथ की नस काट ली। पुलिस ने आनन-फानन में उसे अस्पताल में एडमिट करवाया।

काट ली हाथ की नस
मुंबई की रहने वाली युवती रविवार को बजरिया थाने पहुंची। जहां उसने अपने साथ छलावा किए जाने की शिकायत दर्ज करने के लिए फरियाद की, लेकिन पुलिस ने उसे डांट-डपट कर भगा दिया। जिसके बाद युवती ने थाने के बाहर आकर अपने हाथ की नस काट ली। युवती के इस कदम से पुलिसवालों के चेहरों में हवाईयां उड़ने लगीं। वे उसे तत्काल अस्पताल लेकर पहुंचे और एडमिट कराया। युवती ने बताया कि रामबाग निवासी युवक से मेरी दोस्ती एफबी के जरिए हुई। हम पहले दोस्त थे, लेकिन युवक ने प्यार का इकरार कर दिया, मैने भी हामी भर दी। युवती के मुताबिक दोनों में बातचीत के दौरान प्रेम संबंध हो गए। प्रेमी अक्सर उससे मिलने मुंबई भी आता था। युवती ने बताया कि जब मैंने शादी करने के लिए कहा तो वह बहाना बनाने लगा। काफी समय से मिलने नहीं आया और न ही फोन पर बात की तो मैं उसके घर पहुंच गई।

पहले से शादीशुदा निकला प्रेमी
युवती ने बताया कि मैं युवक के घर पहुंची जहां मेरी मुलाकात एक महिला से हुई। मैंने प्रेमी के बारे में उससे जानकारी की तो उसने पहले बताने से इनकार कर दिया। जब मैंने अपने रिश्ते के बारे में उसको बताया तो महिला का पारा चढ़ गया। महिला ने अपने को युवक की पत्नी बताते हुए मुझे अपने घर से भगा दिया। इस पर मैंने थाने जाकर शिकायत की। लेकिन जब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो मैंने थाने के बाहर ब्लेड से हाथ की नस काट ली। युवती ने बताया कि वह दो दिन से युवक से मिलने के लिए उसके घर जा रही थी, पर घरवाले मुझे गाली-गलौज देकर भागा देते थे। वहीं मामले पर एसओ का कहना है कि युवक की तलाश की गई, लेकिन वह घर पर नहीं है। युवक के मिलने पर दोनों की आमने सामने बात कराई जाएगी, इसके बाद ही कोई हल निकल सकेगा।

आर्थिक और शरीरिक शोषण
युवती का आरोप है कि युवक ने प्रेम-प्रसंग के जरिए मुझे फंसा कर मेरा आर्थिक और शरीरिक शोषण किया है। युवती ने बताया कि युवक माह में चार से पांच बार मुंबई आता था और इस दौरान मैं ही उसका सारा खर्चा उठाती थी। युवक ने कार लेने के लिए मुझसे पैसे लिए। साथ ही मेरा शरीरिक शोषण किया। युवती ने कहा कि जब तक मैं उसे उसके किए की सजा नहीं दिलवा लेती तब तक कानपुर से मुंबई नहीं जाऊंगी। युवती का आरोप है कि पुलिस ने भी मेरे साथ न्याय नहीं किया। अगर वो मेरी शिकायत पर कार्रवाई करती तो मुझे अपने हाथ की नस नहीं काटनी पड़ती।

LEAVE A REPLY