पत्नी के चरित्र पर पति को शक था और उसका शिकार बनी उसकी दो साल की बच्ची, खंडवा में चरित्र शंका के चलते पत्नी के साथ हुए विवाद में पति ने दो साल की मासूम बेटी पर गुस्सा निकाला।

पत्नी की गोद से मासूम को खींचकर जमीन पर पटक दिया। इससे बालिका के सिर में चोट आई है। उसे पंधाना से खंडवा अस्पताल रेफर किया गया। यहां शाम को उसकी छुट्टी कर दी गई।

उसने मारपीट कर पत्नी को जान से मारने की धमकी दी। पत्नी को पीटने के बाद उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ। उसने पत्नी की गोद में खेल रही मासूम को खींचकर जमीन पर पटक दिया।

इससे बालिका के सिर में से खून निकलने लगा। इस दौरान परिवार के अन्य लोग भी आ गए। वे बालिका को लेकर पंधाना अस्पताल आ गए। यहां से प्राथमिक उपचार के बाद बालिका को खंडवा रेफर किया गया। यहां शाम तक बालिका का उपचार किया गया।

इसके बाद उसकी अस्पताल से छुट्टी कर दी गई। परिजन बालिका को घर ले गए। इस मामले में पंधाना पुलिस ने आरोपी रज्जू गिर पर प्रकरण दर्ज किया है।

ग्राम डुल्हार फाटा निवासी रज्जू गिर गोसाई का शनिवार रात पत्नी आशाबाई के साथ विवाद हुआ। पुलिस के अनुसार रज्जू गिर पत्नी पर चरित्र शंका करता है।

इसके चलते अक्सर पति-पत्नी में झगड़ा होता रहता था। शनिवार रात करीब 9 बजे आशाबाई दो वर्ष की बेटी प्रीति को लेकर बैठी हुई थी। इस दौरान पति रज्जू आया और चरित्र शंका के चलते ही पत्नी आशाबाई के साथ विवाद करते हुए मारपीट करने लगा।

LEAVE A REPLY