नई दिल्ली। रिलायंस जियो फोन के ऐलान के बाद जो रोमांच पैदा हुआ था अब वो मायूसी और नाराजगी में बदलने लगा है। लोगों को कुछ और उम्मीद की थी लेकिन जब फोन हाथ में आया तो बात बदल गई।

अब खबर आ रही है कि जियो फोन चार्जिंग के दौरान अचानक जलने लगा। हालांकि, मोबाइल कंपनी का नाम पहचानना कठिन है क्योंकि फोन का पिछला हिस्सा पूरी तरह पिघल गया है, जबकि सामने वाला भाग सही है, जिस पर जियो लिखा है। रिलायंस का दावा है कि यह उनके खिलाफ साजिश है।

बताया जा रहा है कि यह घटना कश्मीर की है। फोन का चार्जर भी पोर्ट के अंत की तरफ पिघला हुआ है। ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि क्या रिलायंस जिओ फोन के यूजर्स को चिंता करनी चाहिए। हालांकि, कंपनी ने कहा है कि उसके यूजर्स को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। कंपनी ने प्राथमिक तौर पर जो जांच की है, उसमें पता चला है कि फोन के मालिक ने ब्रांड का नाम खराब करने के लिए जानबूझकर फोन में आग लगाई थी।

हालांकि, इसके लिए रिलायंस ने किसी प्रतिद्वंद्वी कंपनी पर आरोप नहीं लगाया है। मगर, संकेत दिया है कि उसकी पहली ही प्री-बुकिंग में 60 लाख फोन बिक गए थे। ऐसे में रिलायंस की सेल को नुकसान पहुंचाने के लिए यह जानबूझ कर किया गया हो। कंपनी ने कहा है कि वह फोन में आग लगने की घटना का असली कारण जानने के लिए आगे की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY