2 सितंबर फिर 1 अक्तूबर को सुशील कुमार सिंह ने BJP और उसके नेताओं से संबंधित नीचे दी गयी भविष्यवाणी दी थी . हालिया कुछ परिणाम विपरीत होते हुये समाप्ति की और रहे हैं और आपसी कलह भी बढ़ रही है. जैसा भविष्यवाणी में कहा था, पर मात्र कुछ घटनाओं से मीडिया के एक धड़े का 2019 मे BJPऔर MODI युग के समाप्ति की घोषणा बहुत जल्दबाज़ी है. हां समय विपरीत अवश्य है और कुछ राज्य भी गवाने पड़ सकते हैं. BJP को पर 2019 के बारे में इतनी जल्दी भविष्यवाणी करना उचित नहीं होगा.

क्योंकि क्षेत्रीय दल के किसी चर्चित नेता की कुंडली में 2019 के आसपास कोई बड़ा राजयोग नहीं है. और कॉंग्रेस बृहस्पति में अष्टमेश और अस्त शुक्र की अंतरदशा मे सितंबर जनवरी 2017 से सितंबर 2019 तक है. बृहस्पति मे शुक्र या शुक्र में बृहस्पति कुछ अलग परिणाम देते हैं . और इसे वैसे नहीं पढ़ना चाहिए जैसे अन्य दशाओं को पढ़ा जाता है. राहु मे शुक्र और शुक्र मे राहु , शनि मे शुक्र , शुक्र मे शनि और शनि मे शुक्र भी अलग ही परिणाम देते हैं. इनकी चर्चे आगे के ब्लॉग्स मे. फिल हाल मोदी की कुंडली से मजबूत ग्रह BJP के अंदर ज़रूर हैं , बाहर नहीं. वैसे मोदी के बाद भी BJP के पास बहुत नेता हैं जिनके जबरदस्त राजयोग है.

*2 सितंबर फिर 1 अक्तूबर को सुशील कुमार सिंह ने BJP और उसके नेताओं से संबंधित नीचे दी गयी भविष्यवाणी दी थी. जो पूरी होती नजर आ रही है.

2019 के बारे मे सटीक भविष्यवाणी तभी संभव हो जब दो प्रतिद्वंदी दलों या गठबंधनो या प्रधानमंत्री पद के दावेदार नाम तय हो जाए. क्यों की वैदिक / हिंदू ज्योतिष् में भविष्यवाणी तभी संभव है जब डेटा उपलब्ध हो. बिना पूर्ण डेटा के कयासबाजी ही होती है. सटीक निष्कर्ष तक पहुंचना मुश्किल होता है.

ज्योतिषी सुशील कुमार सिंह

LEAVE A REPLY