सिंगापुर की एक अदालत ने एक सऊदी राजनयिक को कथित तौर पर एक होटल प्रशिक्षु के साथ छेड़छाड़ के आरोप में बेंत से पीटने की सजा सुनाई है।
राजनयिक का नाम बांदेर याह्या अलज़हरानी है वो बीजिंग में सऊदी अरब के दूतावास में काम करते हैं। उन् पर आरोप था कि उन्होंने एक बीस वर्षीय महिला के साथ छेड़छाड़ किया जब वह एक होटल में ठहरे थें। अब अदालत ने राजनयिक को चार बेंत लगाने की सजा सुनाई है।

सिंगापुर में यौन शोषण, बर्बरता करने और दंगा भड़काने जैसे अपराधों के लिए बेंत से पीटने का कानून है। जबकि विदेशी जो अधिक-से-अधिक 90 दिनों के वीजा रखता है उसके लिए यह सजा दी जाती है। ठीक ऐसा ही कानून सऊदी अरब में भी है। वहीं शारीरिक दंड काफी हद तक पूरे यूरोप में और 31 अमेरिकी राज्यों में प्रतिबंधित है।

स्ट्रेट्स टाइम्स के मुताबिक, अदालत में पीड़िता के पिता ने बताया कि जब वह पिछले साल 14 अगस्त को अपने परिवार के साथ तीन दिनों की छुट्टी पर बाहर गया हुआ था तब अलज़हरानी ने महिला के गर्दन और चेहरे पर प्रशिक्षु चूमने की कोशिश की।

LEAVE A REPLY