सऊदी अरब के टेलीकॉम अधिकारियो ने पूरे देश में शमून नाम के एक साइबर वायरस की चेतावनी दी हैं. ये वायरस कंप्यूटर को अपनी चपेट में ले रहा हैं, और सऊदी अरब की तेल की सबसे बड़ी कंपनी अरामको को हज़ारो कम्प्यूटर को अपनी गिरफ्त में ले लिया हैं.

सऊदी अरब के श्रम मंत्रालय ने बताया कि उनके कयबेर नेटवर्क पर हमला किया गया हैं. इस बात की जानकारी तब मिली जब एक रसायन फर्म एक नेटवर्क में गड़बड़ी देखी गयी.

शमून वायरस मास्टर किताब रिकॉर्ड ओवेर्व्रितिंग द्वारा कंप्यूटर को संक्रमित कर रहा हैं, जिसके बाद उसको सही करना काफी कठिन हो रहा हैं.

एडम मेयर्स, साइबर सुरक्षा फर्म क्रोव्ड्सट्रीके के उपाध्यक्ष ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि साल 2012 में वायरस द्वारा हैक कार्यक्रम ईरानी सरकार की ओर से चलाया जा रहा था. और वो फिर से ऐसा करने की कोशिश कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY