एक महिला ने शादी के 16 साल बाद और 4 बच्चों की मां बनने के बाद अपने पति के खिलाफ बलात्कार की FIR दर्ज कराई है।

जानकारी के अनुसार यह मामला गुजरात के अहमदाबाद जिले के धनधुका थाने का है। 29 वर्षीय महिला ने थाने में दी गई रिपोर्ट में कहा है कि 2001 में उसके पति ने उसका बलात्कार किया था। इस वक्त वह 13 साल की थी। इस घटना के बाद दोनों 16 साल तक साथ रहे और दोनों से चार बच्चे हुए। लेकिन अब 2012 से दोनों में मतभेद हैं और अलग रह रहे हैं।

शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने महिला के पति को गिरफ्तार कर लिया। पति की ओर से अदालत में जमानत की अर्जी दी गई लेकिन पत्नी से किशोरावस्था में रेप का गंभीर आरोप होने के कारण अदालत ने जमानत देने से इनकार कर दिया।

पब्लिक प्रोस्यूक्यूटर प्रवीन द्विवेदी ने कहा कि अगर कोई लड़की नाबालिग है और उसकी सहमति से भी शारीरिक संबंध बनाया जाता है तब भी रेप का संगीन मामला बनता है। इसीलिए आरोपी पति की जमानत अर्जी खारिज की जानी चाहिए।

पत्‍नी ने शिकायत में यह भी कहा है कि रेप का विरोध करने पर उसके पति ने उसके साथ मारपीट की थी और इस बारे में किसी से कहने भी नहीं दिया। इसी तरह से वह पति से लगातार परेशान होने के बाद 2012 में अपने पति के घर वापस जाने का निर्णय लिया।

महिला अब अपने मां के पास राजकोट में किराए का घर लेकर दूसरों के घरों में झाड़ू पोछा का काम कर रही है। उसके पिता की मौत हो चुकी है। महिला ने बताया कि जहां वह काम करती है वहां के मालिक ने उसे आरोपी पति के खिलाफ शिकायत देने की सलाह दी और इसके लिए हिम्मत भी बंधाई।

LEAVE A REPLY