नई दिल्ली/लखनऊ : नोएडा के लाइक घोटाले में बड़ा चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. दरअसल, एबलेज इंफो सल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी अपने आप को दिवालिया घोषित कर गायब होने के फिराक में थी. इसलिए ही अरबों का कारोबार करने के बावजूद इस कंपनी ने जो ऑडिट रिपोर्ट इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में जमा कराई है, उसमें चार करोड़ का घाटा दिखाया गया था.

एसटीएफ को अब तक 6000 शिकायतें मिल चुकी हैं

कंपनी के खिलाफ एसटीएफ को अब तक 6000 शिकायतें मिल चुकी हैं. इस कंपनी ने न सिर्फ देश में ठगी की है विदेश में रह रहे लोगों को भी ठगा है. लगातार बढ़ रही शिकायतों की संख्या के बाद एसटीएफ ने अपनी जांच का दायरा बढ़ा दिया है. कंपनी के प्रमोशन के लिए काम करने वाले सेलेब्रेटिज से भी पूछताछ करने की तैयारी कर रही है.

भागने से ज्यादा दिवालिया होने की तरफ अग्रसर थी

करोड़ों की धोखाधड़ी के जांच अधिकारियों के अनुसार कंपनी भागने से ज्यादा दिवालिया होने की तरफ अग्रसर थी. 2016-17 वित्तीय वर्ष के लिए अभी कंपनी की तरफ से इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को अपनी बैलेंसशीट जमा करवाने में समय था. ऐसी आशंका है कि कंपनी इस बार भी घाटा ही दिखाती.

मेंबर्स के अलावा और कहीं से भी पैसा नहीं आ रहा था

जिससे दिवालिया घोषित होने में कोई दिक्कत नहीं होती. जांच से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि कंपनी के पास मेंबर्स के अलावा और कहीं से भी पैसा नहीं आ रहा था. इसी पैसे को कंपनी उन्हीं मेंबर्स को अपना कमीशन और खर्चे काटकर लौटा रही थी.

सदस्यों के पैसे को कंपनी ने अन्य जगहों पर डायवर्ट किया

सदस्यों के इसी पैसे को कंपनी ने अन्य जगहों पर डायवर्ट किया है, जिसके बारे में पता लगाया जा रहा है. एसटीएफ की टीमों ने गाजियाबाद और नोएडा स्थित कंपनी सहित कई जगह छापेमारी की. इसमें एसटीएफ ने कुछ डिजिटल सुबूत भी एकत्र किए.

LEAVE A REPLY