विकास एक ऐसा शब्द है जिसको बोलकर आप कुछ भी कर सकते हैं किसी को बेघर कर सकते हैं, किसी सरकारी सम्पदा को बेच सकते हैं, किसानों पर गोलियाँ चलवा सकते हैं। जैसे “राष्ट्रवाद” के नाम पर आप कुछ भी कर सकते हैं किसी को मार सकते हैं, गालियाँ दे सकते हैं,छात्राओं को रेप की धमकियाँ दे सकते हैं और फिर भी राष्ट्रवादी बने रहेंगे। असल मुद्दे पर आते हैं।

भोपाल में एक रेलवे स्टेशन है हबीबगंज। छ: प्लेटफोर्म का स्टेशन है। भोपाल जंक्शन से सात किलोमीटर और भोपाल सेंट्रल से दस किलोमीटर की दूरी पर ही। यह हिंदुस्तान का पहला रेलवे स्टेशन है जिसे मोदी सरकार ने बेच दिया है। अब से ये प्राइवेट स्टेशन है। रेलवे ने गुरुवार को अपने समस्त अधिकार प्राइवेट कंपनी बंसल हाथवे प्राइवेट लिमिटेड को सौंप दिए। अब केवल गाड़ी संचालन का जिम्मा ही रेलवे को होगा।

पूरी खबर पढने के लिए अगले पेज पर जाए….

LEAVE A REPLY