लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मेरठ में कांग्रेस की एक नेत्री को प्रेम के जाल में फंसाकर लाखों रुपए के ठगी का मामला सामने आया है. आरोप है कि फर्जी फेसबुक अकाउंट बनाकर वसीम नाम के एक आरोपी शख्स ने कांग्रेस नेत्री से पहले दोस्ती की और फिर प्यार का झूठा नाटक किया. बताया जा रहा है कि उसने निकाह भी कर लिया और हद तो तब हो गई जब उत्तर प्रदेश सरकार में पद और चुनाव में टिकट दिलाने के नाम पर लाखों रुपए ऐंठने के बाद फरार हो गया.

महिला ने उसे किसी तरह पुलिस के चंगुल में फंसा दिया

बाद में महिला ने उसे किसी तरह पुलिस के चंगुल में फंसा दिया. आरोपी युवक वसीम बिहार के खेल राज्य मंत्री का पीए है और मंत्री की सोशल मीडिया का कार्य देखता है. मामला मेरठ के थाना लाल कुर्ती क्षेत्र का है. जहां प्यार, शोहरत और राजनीति में एक अच्छा मुकाम पाने की चाह में महिला झांसे में आ गयी. इस महिला की माने तो करीब 6 महीने पहले राज्यसभा सांसद परवेज हाशमी की पत्नी शैला हाशमी के नाम से फेसबुक पर एक फ्रेंड रिक्वेस्ट आया. जिसे उसने एक्सेप्ट कर लिया.

अपने बेटे’ के लिए कांग्रेस नेत्री की बहन का रिश्ता मांगा

बाद में फर्जी अकाउंट से यूजर ने ‘अपने बेटे’ के लिए कांग्रेस नेत्री की बहन का रिश्ता मांगा. लेकिन, जब भेद खुला तो फेसबुक यूज़र वसीम नाम का शख्स सामने आया. फेसबुक के माध्यम से ही उसके लिए भी अपने किसी रिश्तेदार को शादी करने के लिए राजी कर लिया. दोनों की मुलाकात हुई और साजिश के तहत कांग्रेस नेत्री को प्यार के जाल में फंसा लिया गया. रुबीना की माने तो परिवार के सामने निकाह हुआ.

पद दिलाने के नाम पर खातों में पैसे भी डलवाए गए

फिर उसने उत्तर प्रदेश सरकार में अच्छा पद दिलाने के नाम पर खातों में पैसे भी डलवाए गए. लेकिन, जब पद नहीं मिला तो कांग्रेस नेत्री को इस पूरे मामले पर शक हुआ. उसने पैसे वापस मांगे तो आरोपी ने रुबीना से दूरी बनानी शुरू कर दी. इस पर पीड़ित महिला ने थाना लालकुर्ती में मुकदमा दर्ज करा दिया. पैसे लेने के नाम पर युवक मेरठ आया तो महिला ने उसकी गिरफ्तारी भी करा दी. महिला के अलावा भी आरोपी ने एक और लड़की को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगा है.

महिला के आरोपों के आधार पर जांच कर कार्रवाई कर रही है

वहीं इस मामले में पुलिस ने लालकुर्ती थाना में मुकदमा दर्ज कर लिया है और महिला के आरोपों के आधार पर जांच कर कार्रवाई कर रही है. पुलिस ने बताया कि पकड़ा गया युवक वसीम है जो कि बिहार के खेल राज्य मंत्री का पीए है. वह मंत्री की सोशल मीडिया का कार्य देखता है उसी ने महिला के साथ धोखाधड़ी की घटना को अंजाम दिया.

LEAVE A REPLY