बुलंदशहर। एक मस्जिद की मीनार को लेकर दो संप्रदाय के बीच विवाद का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि मस्जिद की मीनार की ऊंचाई 35 फीट रखने का दावा किया गया था, लेकिन इस मीनार को 80 फीट ऊंचा बना दिया गया।

जब हिन्दुवादी संगठन के कार्यकर्ताओं को पता चला तो वे मजदूरों को लेकर मस्जिद की मीनार को तोड़ने के लिए चढ़ गए। मामला दो संप्रदायों से जुड़ा होने के कारण विवाद गहरा गया।

सूचना मिलते ही अधिकारी 5 थानों की पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और जैसे-तैसे गुस्साए लोगों को दिवाली बाद मामले का निस्तारण करने की बात कहते हुए शांत कराया। फिलहाल मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है और क्षेत्र में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है।

दरअसल, यह पूरा मामला जहांगीराबाद के अमरगढ़ इलाके का है। जहां मस्जिद की 80 फीट ऊंची मीनार बनाने को लेकर हिन्दुवादी संगठन के कार्यकर्ताओं और महिलाओं ने जमकर हंगामा किया। बताया जा रहा है कि अमरगढ़ में बन रही मस्जिद की मीनार की ऊंचाई अमरगढ़ के मंदिर की चोटी से भी ऊंची है, जो हिन्दुवादी संगठन के कार्यकर्ताओं को नागवार गुजरी है।

सोमवार को 35 फीट से ऊपर के हिस्से को गिराने के लिए हिन्दुवादी संगठनों के कार्यकर्ता मजदूर लेकर पहुंच गए। पत्रिका की रिपोर्ट के अनुसार उन्होंने आरोप लगाया कि मस्जिद की मीनार ग्राम समाज की भूमि पर बन रही है।

मस्जिद के मोहतमीम ने 35 फीट ऊची मीनार बनाए जाने का वादा किया था, लेकिन इसके बावजूद 80 फीट ऊंची मीनार बनाई गई है। इसको लेकर हिन्दुवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया और मजदूरों के साथ मीनार तोड़ने के लिए चढ़ गए। इसी बीच फोर्स के साा मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने हिप्दुवादी संगठन के कार्यकर्ताओं को जैसे-तैसे शांत कराया और दिवाली बाद मामले का निस्तारण करने का आश्वासन दिया।

यहां बता दें कि मस्जिद की मीनार का विवाद कोर्ट में लंबित है और 12 अक्टूबर को इस मामले की कोर्ट में तारीख भी है। इसके बावजूद कुछ लोग जान-बूझकर मीनार को तोड़ने के लिए चढ़ गए। वहीं मस्जिद के पक्षकार का आरोप है कि प्रशासन एकतरफा कार्रवाई कर रहा है। उन्हें न्यायालय के आदेश का पालन करना चाहिए।

यहां क्लिक करें और पढ़ें

Loading...