मध्य प्रदेश एटीएस द्वारा बुधवार को राज्य में पाकिस्तानी जासूसों के मोड्यूल का भंडाफोड़ के साथ ही गिरफ्तारी करने के बाद रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं. आईएसआई के लिये काम करने वाले इन 11 एजेंटों में से 2 का रिश्ता भारतीय जनता पार्टी से जुड़ा हुआ हैं. अब एक और नया खुलासा हुआ हैं. इनमे से एक बजरंग दल का कार्यकर्ता हैं.

सतना से एटीएस द्वारा गिरफ्तार किया गया बलराम बजरंग दल कार्यकर्त्ता हैं. उसने बजरंग दल के कुछ कार्यकर्ताओं के भी बैंक खातें खोल रखे थे. जिनमें पाकिस्तान की तरफ से आये पैसे जमा हुआ करते थे. बलराम के साथ करीब 46 लोग जुड़े हुए हैं. जो इसी पुरे नेटवर्क में शामिल थे.

Loading...

बलराम ने इसी मामले में सतना के दो डॉक्टरों के शामिल होने की बात कबूली हैं. इनके बैंक खातों में आईएसआई की और से विदेशों से पैसा जमा हुआ हैं. इस मामले में बलराम के भाई विक्रम को भी हिरासत में लिया गया है और उससे भी इंटेलीजेंस पूछताछ कर रही है. पुलिस को आशंका है कि विक्रम को बलराम के इन कारनामों की जानकारी होगी.

याद रहें गिरफ्तार किए गए आरोपियों में से दो बीजेपी के कार्यकर्ता हैं. भोपाल का रहने वाला ध्रुव सक्सेना भारतीय जनता युवा मौर्चा की आईटी सेल का संयोजक है. जो बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का सबसे करीबी सहयोगी बताया जा रहा हैं. इसके अलावा उसके राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भोपाल महापौर आलोक शर्मा, भोपाल सांसद आलोक संजर के साथ भी करीबी रिश्तें हैं. वह कई बार इनके साथ मंच साझा कर चुका है. वहीँ दूसरा आरोपी जीतेन्द्र जो ग्वालियर के रहने वाला हैं. जितेन्द्र के भाई की पत्नी ग्वालियर में पार्षद है.

Loading...

LEAVE A REPLY