यूपी में दलबदलुओं व बा‌हरियों को टिकट दिए जाने से भाजपाइयों का आक्रोश ब‌ढ़ता जा रहा है और अब वो तरह-तरह से विरोध जता रहे हैं। टिकट न मिलने ‌से निराश पार्टी कार्यकर्ता सुंदर लाल दीक्षित व रामबाबू द्विवेदी ने विरोध जताने के लिए एक अलग ही रास्ता निकाला।

वो लखनऊ में भाजपा मुख्यालय में प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य की गाड़ी के सामने लेट गए और कहा कि अब आपकों हमारी लाशों पर से गुजरना होगा, जिसके बाद उन्हें समझाने की कोशिशें जारी रहीं।

गौरतलब है कि भाजपा के इन दो कार्यकर्ताओं को बाराबंकी से टिकट दिया गया था लेकिन वह चुनाव हार गए थे। उन्हें किसी तरह समझा-बुझाकर वापस भेजा गया।

भाजपा ने यूपी चुनाव के लिए अब तक 370 प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। बाकी के प्रत्याशियों का टिकट भी जल्द ही फाइनल किया जाएगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के अनुसार, भाजपा अपने सहयोगी दलों को 20 टिकट देगी।

LEAVE A REPLY