गुजरात:(कच्छ ) नालिया तालुक की बलात्कार पीड़ित महिला ने एक बड़ा खुलासा किया जिसमें उसने कहा है कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने 35 महिलाओं को वेश्यावृति के दलदल में धकेला है। साथ ही कहा है कि यह सैक्स रैकेट और भी बड़ा है जिसमें भारतीय जनता पार्टी के सक्रिय सदस्यों के अलावा स्थानीय बिल्डर्स और क्षेत्र के रियल एस्टेट एजेंट भी शामिल हैं। भाजपा के 5 सक्रिय सदस्यों की पहचान शांतिलाल सोलंकी, विपुल ठक्कर, आश्विन ठक्कर, गोविन्द और चेतन ठक्कर के तौर पर की गई थी।

इस बीच, प्रदेश भाजपा महासचिव के सी पटेल ने पत्रकारों को बताया कि प्रार्थमिकी में नाम आने के पश्चात पार्टी ने आरोपी कार्यकर्ताओं को निलंबित कर दिया है। महिला ने हलफनामे में 9 आरोपियों के नाम दिए हैं तथा कहा गया है कि उसको नौकरी का प्रलोभन दिया गया था। इस घटना को लेकर प्रदेश के राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा इस कहा था कि जो भी इसमें शामिल पाया गया उसको बक्शा नहीं जायेगा। उन्होंने इस मामले पर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की खिंचाई की कि वे इसको राजनितिक रंग देने में जुटी हैं।

गौरतलब है कि आरोपी कथित तौर पर पीड़ित महिला को अपने ग्राहकों के लिए अनुरक्षक के रूप में काम करने के लिए मजबूर करते थे। अपनी शिकायत में पीड़िता ने कहा था कि आरोपियों ने उसके साथ बलात्कार किया, उसका यौन शोषण किया और इसकी फिल्म बना ली। बाद में वे उसको ब्लैकमेल करने लगे। यह भी आरोप लगाया है कि उसे भाजपा का एक सक्रिय सदस्य बनाने का वादा किया था तथा भाजपा के प्रशिक्षण सत्र के लिए एक पहचान कार्ड भी दिया था।

उधर, दोनों विपक्षी पार्टियों कांग्रेस और आप ने आरोप लगाया है कि इस मामले मैं सत्तारूढ़ पार्टी के बड़े नाम भी शामिल हैं इसलिए उन्होंने इसकी न्यायिक जाँच की मांग की है जिसे राज्य सरकार ने अस्वीकार कर दिया है।

LEAVE A REPLY