नई दिल्ली : विवादित इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाईक को बड़ा झटका लगा है. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उनके करीबी आमिर गजदर को गिरफ्तार कर लिया है. एक हवाला रैकेट की जांच के तहत यह कार्रवाई की गई है. अधिकारियों ने बताया कि उसकी भूमिका को लेकर पहले ही शक था और बाद में कुछ सबूत भी मिलें.

शक है कि गजदर ने 200 करोड़ का अवैध लेनदेन किया

गजदर को नाईक का बेहद करीबी माना जाता है. निदेशालय का कहना है कि पिछले कई दिनों से उससे पूछताछ की कोशिश हो रही थी लेकिन वह जांच में अपना सहयोग नहीं दे रहा था. निदेशालय को शक है कि गजदर ने 200 करोड़ का अवैध लेनदेन, जाकिर और उसकी संस्था आईआरएफ के नाम पर किया है.

केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी ने जाकिर पर आपराधिक मुकदमा दर्ज किया

गौरतलब है कि एनआईए से मिले इनपुट के बाद केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी ने जाकिर पर आपराधिक मुकदमा दर्ज किया है. जाकिर नाईक को भी समन भेजा गया है लेकिन, नाईक देश से लगातार बाहर है. जाकिर पर आरोप है कि उसने अपने भाषणों से दो समुदायों के बीच तनाव पैदा करने का काम किया है.

LEAVE A REPLY