लाहौर (पेशावर): पाकिस्तान में हाल में हुए फिदायीन हमले के बाद कड़ी की गई सुरक्षा के बीच देशव्यापी अभियान में 130 संदिग्ध आतंकवादी समेत 350 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इनमें से अधिकतर अफगान है. जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार अफगान सीमा के पार एक और सर्जिकल स्ट्राइक में कम से कम 15 आतंकवादी मारे गए. रिपोर्ट के अनुसार आतंकवादियों की भर्ती करने और फिदायीन हमलावरों को ट्रेनिंग देने वाले एक उग्रवादी को मार गिराया गया और आतंकवादियों के कम से कम 12 ठिकानों को ध्वस्त किया गया. इनमें जमात-उल-अहरार के एक कमांडर का हथियार गोदाम और अड्डा शामिल है.

पंजाब पुलिस के प्रवक्ता नियाब हैदर ने बताया, ‘‘पिछले सोमवार को लाहौर के माल रोड पर विस्फोट के बाद से 350 से ज्यादा संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है जिसमें से ज्यादातर अफगान हैं.’’ उन्होंने कहा कि समूचे प्रांत में कानून इंफोर्समेंट एजेंसियों के तलाशी अभियान जारी रहेंगे और यहां रहने वाले अफगान नागरिकों को अपने पहचान दस्तावेज पेश करना होगा. हाल ही में सिंध प्रांत के दक्षिण में सहवान इलाके में मशहूर लाल शाहबाज़ कलंदर की दरगाह पर फिदायीन हमले में कम से कम 88 लोग मारे गए थे और 200 से ज्यादा जख्मी हो गए थे. इस हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली थी.

हैदर ने कहा, ‘‘शनिवार और रविवार की छापेमारी के दौरान 200 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें ज्यादातर अफगान और पख्तून हैं क्योंकि उनके पास पहचान कागजात नहीं थे. पुलिस ने उन लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया है जिन्होंने उन्हें अपने घर किराये पर दिए थे.’’ पिछले दिनों पंजाब असेंबली के बाहर दवा विक्रेताओं के प्रदर्शन के दौरान एक फिदायीन ने खुद को उड़ा लिया था जिसमें करीब 15 लोगों की मौत हुई थी जिसमें ज्यादातर पुलिस अधिकारी शामिल थे.

अपराध जांच विभाग (सीआईडी) के प्रवक्ता के मुताबिक, पुलिस अधिकतम परिणाम हासिल करने के लिए खुफिया सूचना पर आधारित तलाशी अभियान पर ध्यान केंद्रित कर रही है. संवेदनशील सरकारी भवनों पर तैनाती बढ़ा दी गई है और प्रांत में दरगाहों के आसपास के इलाकों में भी अभियान चलाए जा रहे हैं.

LEAVE A REPLY