जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहे है देश के नेता ज़हरीले और भड़काऊ भाषण देते ही जा रहे है। हालाँकि, सुप्रीमकोर्ट ने यह फटकार लगा चुकी है की कोई भी धर्म के नाम पर वोट नहीं मांगेगा। लेकिन फिर भी अभी हाल ही में यह देखने को मिला है कि, उत्तर प्रदेश के भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार नेता ज़हरीले और भड़काऊ बयान दे रहे है। सुप्रीमकोर्ट ने कह चुका है कि, कोई भी धर्म के नाम पर वोट नहीं मांगेगा और राजनाथ सिंह ने भी बयान दिया था कि, भाजपा धर्म के नाम पर राजनीति नहीं करती है। लेकिन हम सभी अच्छी तरह जानते है कि, देश में भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जो धर्म के नाम पर हमेशा से वोट मांगती आ रही है।

उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष केशव मौर्या ने तो फिर राम मंदिर का मुद्दा उठा दिया है और यह कह दिया है कि, अगर हम सत्ता में आते है तो राम मंदिर वहीँ पर बनायेंगे। केंद्र में भाजपा की सरकार को तीन साल होने जा रहे है लेकिन सभी जानते है कि, मोदी सरकार ने कोई विकास नहीं किया है तो फिर से भाजपा ने राम मंदिर जैसे मुद्दे उठाने शुरू कर दिए है। भाजपा को यह भी परवाह नहीं है कि, सुप्रीमकोर्ट क्या आदेश दे रही है और यहाँ के देश की क्या कानून व्यवस्था है। भाजपा के नेता कानून अपने हाथ में लेने से नहीं डर रहे है।

वीडियो देखें:-वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें

एक विडियो ऐसा सामने आया है जिसमें एक नेता ने देश के कानून तक की धज्जियाँ उड़ा दी है और पुरे देश में फिर से दंगे भड़काने की कोशिश कर रहा है। इस विडियो में यह नेता देश के युवाओं को बहकाता हुआ नजर आ रहा है जिनकी उम्र अभी सिर्फ 16-17 साल के आस-पास ही होगी। इस विडियो में यह नेता भद्दी-भद्दी गालियाँ भी दे रहा है और इसके पीछे जो इसके समर्थक खड़े है वह भी मारने और काटने की बात कर रहे है। ये नेता इन युवाओं का बुरी तरह से ब्रेनवाश करके भड़का रहा है और देश के भारतीय मुसलमानों को मारने काटने की बात कर रहा है। इस विडियो के वायरल होने के बाद अब यह देखना है कि, इस तरह के नेता जो देश को तबाह करना चाहते है देश में अशांति का माहौल पैदा करना चाहते है देश में साम्प्रदायिकता और तनावपूर्ण स्थिति पैदा करना चाहते है अब यह देखना है कि, मोदी सरकार इन पर किस तरह कार्रवाई करती है या फिर इन्हें ऐसे ही जंगली जानवरों की तरह खुला छोड़ देती है। इस नेता ने बुरी तरीके से देश के कानून व्यवस्था का मजाक बनाया है।

LEAVE A REPLY