ताजमहल (Taj Mahal) विवाद खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है बल्कि बढ़ता ही जा रहा है। इस विवाद पर अब बॉलीवुड एक्टर और बीजेपी सांसद परेश रावल भड़कते हुए गुस्से में आकर ट्वीट कर दिया है। परेश रावल ताजमहल को लेकर चल रहे विवाद से खासा नाराज हैं इसलिए उन्होंने इस पूरे विवाद को बेकार और बेवकूफी वाला करार दिया है। उनका कहना है कि प्यार के प्रतीक ताजमहल पर इस तरह का विवाद बहुत दुखद है। लोक सभा सासंद परेश रावल ने इस विवाद से खासा नाराज होते हुए ट्वीट किया, ‘प्रेम का प्रतीक ताजमहल नफरत का प्रतीक बन गया है!!! यह बेवकूफ वाला, अनावश्यक, दुखद और दयनीय विवाद है।’ परेश रावल के इस ट्वीट पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। किसी ने उनके विचारों को सही बताया है तो कोई इससे असहमत भी है।

वहीं ताजमहल विवाद पर अपना मत देते हुए हरियाणा के विज्ञान और तकनीकी मंत्री अनिल विज ने इस ऐतिहासिक स्मारक को एक खूबसूरत कब्रिस्तान बताया है। अनिल विज का कहना है कि ताजमहल चाहे कितना भी सुंदर क्यों ना हो लेकिन लोग ताजमहल के मॉडल को घर में रखना अपशगुन मानते हैं क्योंकि यह एक कब्र है। वहीं बॉलीवुड अभिनेता राजपाल यादव का ताजमहल पर दिया गया एक पुरान हो चुका बयान भी इस समय सोशल मीडिया पर फिर से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में राजपाल यादव को ताजमहल के सौन्दर्यीकरण को लेकर मीडिया से लेकर नेता और अभिनेता को अपनी जिम्मेदारियों का एहसास कराते हुए नज़र आ रहे हैं।

गौरतलब है कि ताज महल विवाद यूपी के सरधना से बीजेपी विधायक संगीत सोम का बयान सामने आने के बाद शुरू हुआ। संगीत सोम ने दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताज को भारतीय संस्कृति पर धब्बा बताया था। उन्होंने कहा था कि ताज महल बनाने वाले ने उत्तर प्रदेश और हिंदुस्तान से सभी हिंदुओं का सर्वनाश करने का काम किया था। ऐसों का नाम अगर इतिहास में होगा तो वह बदला जाएगा। वहीं कुछ दिनों पहले राज्य सरकार के पर्यटन विभाग ने बीते दिनों ऐतिहासिक धरोहरों और स्थलों की एक सूची जारी की थी, जिसमें आगरा के ताज महल का नाम नहीं था। हालांकि बीजेपी ने खुद को संगीत सोम के बयान से अलग कर लिया है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि संगीत सोम ने जो भी कहा वह अपने व्यक्तिगत विचारों के आधार पर कहा है, इसका सरकार बिल्कुल समर्थन नहीं करती।

LEAVE A REPLY