लखनऊ : ये दास्तां है कानपुर की एक युवती की है, जिसे एक युवक ने प्रेम जाल में फंसाकर शादी की। पीडिता ने एसएसपी कार्यालय में अपनी अाप बीती बताई।

बताया कि 2013 में उसकी मुलाकात रवि पाण्डेय पुत्र ओम प्रकाश पाण्डेय निवासी बाबूपरुवा से लखनऊ एयरपोर्ट पर हुई उस समय वह दुबई से भारत आयी थी और रवि पाण्डे बतौर ड्राइवर के रूप में उससे मिला था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रवि ने उसे अपने प्रेम जाल में फंसाया तथा धर्म बदलवाकर आर्य समाज से विवाह कर लिया। इतना ही नहीं पीडिता का नाम भी बदल दिया। युवती काे क्या पता था कि जिसे वह प्यार करती है उसकी नियत कुछ अाैर ही है।

रवि ने कहा कि वह ब्राम्हण परिवार से है इसलिए घर पर नहीं रख सकता और कलकत्ता ले गया जहां बार डांसर का काम करने का दबाव बनाया। बाेला पैसा कमाओगी तो घर वाले अपना लेंगे। इसलिए उसने चिनार पार्क के सीक्रेट -7 होटल में डांसर बना दिया।

रवि ने उसकी मुलाकात अपने बडे भाई विकास पाण्डेय से कराई। बाेला कम से कम 25 लाख कमा कर भाई को दे दोगी तो वह बहू स्वीकार कर लेंगे। इस बीच रवि उसके साथ लगातार शारीरिक संबंध बनाते रहा।

अगस्त 2014 में वह प्रेगनेंट हाे गई अाैर उसे बेटा हुअा लेकिन दूसरे दिन ही उसकी माैत हाे गई। हालांकि कुछ माह बाद वह फिर से प्रेग्नेंट हुई अाैर इस बार उसे एक छोटी बेटी हुई।

इसके बाद रवि ने उसका सौदा सिंगापुर के लिए किया और उसके भाई ने दो लाख लेकर उसे जबरन सिंगापुर भेज दिया जहां से वह 10 दिन बाद वापस आ गयी। लेकिन रवि ने उसका पीछा नहीं छाेड़ा।

पीड़िता ने बताया कि उसे मानाें वैश्या बना डाला गया था। उसके पति की चाहत थी कि वह पाॅर्न स्टार बने। इसके लिए उसने पाॅर्न फिल्माें की तरह सेक्स करने के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया। वह उसे दुबई ले जाने के लिए कह रहा था।

पीड़िता ने बताया की एक साथ तीन से चार मर्द उसके बदन काे नाेचते अाैर जबरन संबंध बनाते। मारने पीटने के बाद अपनी पत्नी को अश्लील फिल्मों में काम करने का दबाव बनाने वाले पति के खिलाफ पीड़ित ने सोशल मीडिया पर अपनी आवाज उठाई है।

कानपुर की रहने वाली इस पीड़ित महिला ने चेहरा ढककर और हाथ में संदेश पत्र लिये अपनी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर जारी की है।

LEAVE A REPLY