नई दिल्ली: चुनाव आयोग के निगरानी और खर्च निगरानी दल ने पांच चुनावी राज्यों में 96 करोड़ रूपए से अधिक नकदी. 25.22 करोड़ रूपए की कीमत की 14.27 लाख लीटर शराब और 19.83 करोड़ की कीमत के 4,700 किलोग्राम से अधिक नशीले पदार्थ जब्त किए हैं.

आधिकारिक आकड़ों के अनुसार इस महिने की शुरूआत में चुनावों के कार्यक्रम की घोषणा के बाद से कल तक उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 87.67 करोड़ रूपए जब्त किए गए. इसके अलावा पंजाब में 6.60 करोड़, गोवा में 1.27 करोड़ रुपये, उत्तराखंड में 47.06 लाख और मणिपुर में 8.13 लाख रूपए जब्त किए गए.

इन राज्यों में मतदाताओं को लुभाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले अन्य अवैध प्रलोभन जैसे 25.22 करोड़ रूपए कीमत की 14.27 लाख लीटर शराब चुनाव आयोग द्वारा नियुक्त निगरानी और खर्च निगरानी दल ने जब्त की है. शराब भी उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 8.01 लाख लीटर शराब जब्त की गई है जिसकी कीमत 20.62 करोड़ रूपए है. वहीं गोवा में 15.14 लाख की कीमत की बीयर और अन्य नशीले पेय जल जब्त किए गए हैं.

मादक पदार्थ रोधी एजेंसी और पुलिस दल ने सबसे अधिक पंजाब में 19.83 करोड़ रूपए के 4,774 किलोग्राम नशीले पदार्थ जब्त किए है. आकड़ों के अनुसार पिछेल 10 दिनों में जब्त की गई नशीले पदाथरें की मात्रा दोगुनी हो गई. जब्त किए गए नशीले पदाथरें में हेरोइन, चूरापोश्त, चरस, गांजा और स्मैक आदि शामिल हैं.

चुनाव आयोग ने चुनावी राज्यों में मतदाताओं को लुभाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले काले धन और अन्य गैरकानूनी प्रलोभन के इस्तेमाल पर निगरानी रखने के लिए केंद्रीय पर्यवेक्षकों के अलावा करीब 200 अन्य निर्वाचन खर्च पर्यवेक्षक नियुक्त किए हैं. इन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव चार फरवरी को शुरू होंगे जो आठ मार्च तक चलेंगे. सभी राज्यों के नतीजे 11 मार्च को घोषित किए जाएंगे.

LEAVE A REPLY